Press "Enter" to skip to content

Breast cancer सावधान: पुरुषों को भी हो सकता है ब्रेस्ट कैंसर, ये हैं प्रमुख लक्षण-

Sandy

पुरुष और महिला दोनों के शरीर में कई सारी समानतायें पाई जाती हैं. कहा जाता है कि केवल महिलाओं में ही ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण पाए जाते हैं. लेकिन ऐसा नहीं हैं महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों में भी यही लक्षण पाए जाते हैं. पुरुषों के पास महिलाओं जैसे ब्रेस्ट तो नहीं होते हैं, लेकिन उनके ब्रेस्ट टिश्यु जरूर होता है. इसलिए उन्हें भी ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है. पुरुषों में ब्रेस्ट कैंसर एक बहुत जटिल बीमारी है.

(Breast cancer) पुरुषों में ये बीमारी सभी तरह के ब्रेस्ट कैंसर का 1% हैं. पुरुषों की इस बीमारी का महिलाओं की तुलना में निदान बहुत कम है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस विषय में पुरुषों को इसका संदेह कम होता है. जिसमें मर्द भी कम सतर्कता दिखाते है. जो उन्हें ब्रेस्ट कैंसर की आशंका से परे कर देता है.

brest cance in male fenkmat

आइये आपको बताते हैं पुरुषों से जुड़े ब्रेस्ट कैंसर के खतरे-

1. आनुवंशिकता, महिलाओं के ब्रेस्ट कैंसर में कोई अहम् भूमिका नहीं निभाती है लेकिन मर्दों में निभाती है. ये आनुवंशिक विचलन जैसे क्लेनफेल्टर सिंड्रोम मर्दों में एस्ट्रोजेन के स्तर को बढाता हैं.

2. ऑर्काइटिस अंडकोष में सूजन पुरुषों में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढाता हैं.

3. खाने- पीने की खराब आदतों से भी इसका खतरा बढ़ जाता है.

4. अगर आप एल्कोहल का सेवन ज्यादा करते हैं तो ये भी एक बड़ा कारण हैं ब्रेस्ट कैंसर को दावत देने का.

5. हार्मोनल दवाइयों या हर्बल पूरक आहार के सेवन की लत से भी ब्रेस्ट कैंसर हो जाता है.

6. अगर आपकी छाती का पहले रेडिएशन टेस्ट या इलाज हो चुका हो तो भी आपको ब्रेस्ट कैंसर हो जाता है.

7. जो लोग भी खासतौर पर यूथ हॉडकिंग्स रोग जैसे हालत में इलाज के लिए रेडिएशन थेरेपी से गुजर चुके हैं. तो उन्हें और भी अधिक सतर्क रहने की जरूरत है. क्योंकि उनको ब्रेस्ट कैंसर के चांस ज्यादा हो जाते हैं.

brest cance in male fenkmat

अब जानते हैं पुरुषों में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण-

1. अगर आपके ब्रेस्ट में गाँठ हैं तो ये भी एक कारण हो सकता है.

2. अगर आपके ब्रेस्ट के एरिया में निप्पल के चारों ओर त्वचा पर गड्डे या उसका रंग बदलना तो ये भी एक कारण हैं.

3. निप्पल में अगर दर्द हो रहा है या निप्पल के चारों ओर जख्म हो रहा है या लिंफ नोड्स का बढना भी इसका कारण है.

4. मर्दों में ब्रेस्ट के बढ़ने को ‘गाइनेकोमास्टिया’ कहते हैं इससे भी ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है.

जीवनशैली में बदलाव लाकर कोई भी इस खतरे को कम कर सकता है. अगर आपको शुरू में ही पता चल जाता है तो इसका इलाज संभव है.

पुरुषों में इसके रोकथाम के उपाय-

1.अपने को जानें, और पारिवारिक इतिहास का पता लगाये-

आपको अपने परिवार में ये पता लगाना चाहिए कि कहीं किसी को ये बीमारी तो नहीं हुई है. क्योंकि इन सभी मामलों में कम से कम 10% आनुवांशिकता भी कारक होती है.

2.बॉडी को संतुलित रखें-

मोटापा और ज्यादा वजन होना भी आप में एक रोग है. इसके अलावा ये आपको ह्रदय रोग जैसे कई सारी बीमारियों को बढावा देती है.

3. नियमित कसरत-

शारीरिक गतिविधियां आपको एक स्वस्थ वजन प्रदान करने में मदद करती हैं. जिससे ब्रेस्ट कैंसर के चांस कम हो जाते हैं.

4. स्वस्थ और संतुलित आहार-

उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले आहार, जैसे सफेद आटा, सफेद चावल, आलू, चीनी, वगैरह को कम करें, क्योंकि ये खाद्य शरीर में हार्मोन संबंधी बदलाव लाते हैं, जो ब्रेस्ट टिश्यू में कोशिका वृद्धि का कारण बन जाते हैं. इसकी बजाय, मोटा अनाज, ज्यादा फाइबर और लिग्निन सामग्री वाले खाद्य लें.

5.धूम्रपान और अल्कोहल से रहें दूर-

इससे भी ब्रेस्ट कैंसर का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए आपको इन सब से बचना चाहिए.

Leave Your Comment Here
  1. Rohit Rohit

    It’s very useful information good.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *