Press "Enter" to skip to content

यदि आप भी डरते हैं शादी से, तो यह पढ़ें-

Sandy

हमारे पूर्वजों और बड़े बूढ़ों ने कहा है की शादी का लड्डू एक ऐसा लड्डू है जो खाए वो भी पछताए और जो न खाए वो भी पछताए. देशभर में ऐसे युवाओं की कमी नहीं,जो आज़ाद जीवन जीना चाहते हैं, जिन्हें अपना मस्तमौलापन और आज़ादी बेहद प्यारी है.

marriage couple
Credit Pexel

अगर आप खूबसूरत हैं, शादी की उम्र भी है, अच्छे घराने से सम्बन्ध रखते है, संस्कारी भी हैं और अच्छा कमा भी रहे हैं इसका सीधा अर्थ है की आप एक  सुयोग्यतम भावी दूल्हा/दुलहन हैं, तो आप के शादी की रिश्तों के चर्चे आसपास होने लगते हैं. कई बार ऐसी समस्या आती है कि आप में एक आचे और योग्य दूल्हा/दुलहन होने के लक्षण होते  हुए भी शादी करने से कतराने लगते हैं आपकी शादी के बारे में उन से ज्यादा उन के दोस्त,आपके पडोसी, परिवार वाले और आपके दूर के रिश्तेदार के लोग बातें करते हैं. ऐसा सिर्फ छोटे या मैट्रो शहरों में ही नहीं होता,बल्कि देश-विदेश सभी जगह यह एक विकराल समस्या है.

marriage couple
Credit Pexels

इस यंग जनरेशन को यह डर लगा रहता है कि शादी के बाद हर छोटी-छोटी बात के लिए पार्टनर को इंफॉर्म करना होगा. यानी अपने हर क्रियाकलाप का ब्योरा देना होगा. भारतीय लड़कियों के लिए शादी  के बंधन में बधना, घर बसाना, अब भी उस पर आने वाली अनचाही जिम्मेदारियों का बोझ और पाबंदीयों की एक गांठ है जो खुलना 7 जन्मो तक नामुमकिन है। शादी के बाद लड़कियों को सामाजिक और आर्थिक,दोनों तरह की स्वतंत्रता की बलि देनी पड़ती है

यह भी पढ़ें:-सिक्किम की पहली महिला IPS, पढ़ें- इनकी सफलता की कहानी

शादी से पहले हमारी बहुत सारी पर्सनल बातें और कुछ चीज़ें ऐसी रहती हैं,जो केवल हम तक ही सीमित रहती हैं और उन सब में हम  किसी की दख़ल अंदाज़ी बिल्कुल भी नहीं चाहते.

marriage couple
Pixabay

आज के इस प्रतिस्पर्धा  के दौर में पढ़ाई और करियर को हर कोई महत्व देने लगा है,फिर चाहे लड़के हो या लड़कियां. इनमें से कई अति महत्वाकांक्षी और कार्य दक्ष क़िस्म के होते हैं. उनके लिए अपना एक चमकता करियर बनना और जीवन में एक मुक़ाम हासिल करना शादी-ब्याह, बीवी-बच्चे से कहीं बढ़कर होता है. हम लोगो को एक प्रकार का अनजाना सा भय सताता रहता है कि कहीं शादी के बाद  हम अन्य ज़िम्मेदरियों और पूरा करते-करते करियर में वे कहीं बहुत पीछे न छूट जाएं. हमारे लिए अपना करियर,जॉब और क़ामयाबी ही सब कुछ होती है.

यह भी पढ़ें:- महंगाई से जीना दुश्वार, बस अमीरों की भाजपा सरकार

अब चलते हैं इन सब समस्याओं से निजात पाने की ओर इसका एक साधारण सा तरीका है ज्यादा सोचें नहीं शादी को लेकर और जहां आपकी शादी की चर्चा हो उस चर्चा में ज्यादा लिप्त न रहें परोक्ष रह कर ही सब चीजों की जानकारी रखें, और संभव हो सके तो अपने पार्टनर से खुल कर बात करें इससे आपके मन में शादी को लेकर जो डर है वो तो खत्म होगा ही साथ ही साथ आप दोनों को एक दूसरे को समझने के लिए यह बेहतर अवसर होता है।
एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान करें और अपने बारे में सब सच ही बताएं बड़ा चड़ा कर अपने बारे में बताने से आप अपने लिए ही बेवजह की परेशानियां पैदा कर लेंगे।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *