Press "Enter" to skip to content

यहाँ कुंडलियां नहीं एचआईवी रिपोर्ट मिलाई जाती है शादी के लिए-

archna

शादी के लिए कुंडलियों का मिलान करवाना पड़ता है ये तो आपने सुना ही होगा। लेकिन यूपी में अब कुंडली मिलाने से पहले एचआईवी की रिपोर्ट का मिलान किया जा रहा है। असल में थोड़े दिन पहले यहां एक ही इलाके में एक साथ करीब 50 लोगों के HIV पॉजिटिव होने की ख़बर आई थी। इलाके से तो आप सब भली भांति परिचित हैं जी हाँ सही पहचाना आपने यूपीे स्थित बांगरमऊ।

यह भी देखें- मीडिया ने बिना जांच किये ही फैला दी इरफान खान को ब्रेन ट्यूमर की खबर

अब ख़बर के बाद हुआ ये कि इस इलाके के लड़के की शादी तय हो गई थी लेकिन ख़बर के बाद लड़की वाले थोड़ा सा डर गए,  और बोले- पहले लड़के का एचआईवी टेस्ट होगा और उसके बाद ही शादी होगी फिर क्या था। घर वालों को भी शर्त माननी पड़ी। टेस्ट हुआ। लगे हाथ लड़के वालों ने भी लडकी का HIV  टेस्ट कराने की मांग रख दी फिर दुल्हन का भी टेस्ट हुआ। गनीमत है दोनो की रिपोर्ट नेगेटिव आई। तब कहीं जाकर 4 मार्च को धूमधाम से शादी हुई।

यह था पूरा मामला

pixabay

दरअसल, 3 फरवरी को स्वास्थ्य विभाग की ओर से बांगरमऊ में खून की जांच के लिए एक कैंप लगाया गया था। खून के नमूने लेने के बाद जब जांच की गई, तो पता चला कि 46 मरीज एचाईवी पॉजिटिव हैं। इसके बाद पूरे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया था।

यह भी देखें-  Salman Khan और रितिक रोशन से भी ज्यादा फिट है ये IPS ऑफिसर-

गांव वालों ने आरोप लगाया कि  एक झोलाछाप डॉक्टर राजेंद्र यादव के कारण ऐसा हुआ। उनका कहना है कि राजेंद्र एक ही इंजेक्शन का बार-बार इस्तेमाल किया करता था इस वजह से  इतने सारे लोग एक साथ HIV से संक्रमित हो गए।

आपको हमारा आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेन्ट करके जरूर बताएं और आर्टिकल पसंद आये तो लाइक करें और अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलें।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *