Press "Enter" to skip to content

टाट-फट्टी से IAS तक का सफर मिलिए गाँव की इस होनहार से, जान जायेंगे सफलता का सूत्र-

Sandy

अक्सर ऐसा देखा जाता है, असफल होने के लिए हम कई चीजों को जिम्मेदार ठहरा देते हैं। कभी संसाधनों की कमी तो कभी मौकों के अभाव को। लेकिन सच्चाई ये है कि जिसे ऊंची उड़ान भरती होती है उसे हवा के रुख से ज्यादा अपने पंखों पर भरोसा होता है। ऐसी ही कुछ कहानी है मध्य प्रदेश के सतना की रहने वाली सुरभि गौतम की। 2016 की सिविल सर्विसेज में 50वीं रैंक हासिल करने वाली सुरभि गौतम की कहानी उन सबके के लिए एक हौसले की तरह है जो आगे बढ़ने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- SSC में निकली बम्पर भर्ती इन पदों के लिए करें आवेदन योग्यता सिर्फ 12वी पास-

surabhi gautam ias
Third party image

टॉप करने की आदत सुरभि ने बचपन से ही डाल ली थी। पहली नींव दसवीं परीक्षा में रखी जब बोर्ड के एग्जाम में उनके 93.5 फीसदी अंक आए। हाईस्कूल के परीक्षा में अपने अंकों को देखने के बाद सतना के अमदरा नाम के छोटे से गांव में रहने वाली लड़की ने ठान लिया था कि वो एक दिन इस देश की सर्वोच्च परीक्षा में भी सफलता हासिल कर के ही मानेगी।

यह भी पढ़ें- Esha Gupta के इन Photos ने बनाया उन्हें बॉलीवुड की सबसे हॉट Hot Actress सोशल मीडिया पर छाई हैं ईशा

सुरभि ने अपनी 12वीं तक की पढ़ाई अमदरा के स्कूल से की। सरकारी स्कूल में न तो क्लास की व्यवस्था थी और न ही स्कूल में टीचर आते थे। जिस गांव में उनका बचपन बीता वहां लाइट की व्यवस्था नहीं थी लेकिन वो लालटेन की रौशनी से ही सफलता का रास्ता बनाती चली गईं। 12वीं के बाद स्टेट इंजीनियरिंग एग्जाम में भी जबरदस्त सफलता हासिल करते हुए सरकारी कॉलेज में दाखिला लिया। टॉप करने की आदत यूनिवर्सिटी की शहरी हवा में भी नहीं छूटी और यूनिवर्सिटी की भी टॉपर बनीं।

surabhi ias officer
Third party image

कॉलेज के बाद सुरभि ने BARC जैसा टफ इंटरव्यू क्लियर किया। यहां वो बतौर न्यूक्लियर साइंटिस्ट जुड़ी रहीं। हालांकि सुरभि का प्लेसमेंट टीसीएस में भी हुआ था लेकिन सपने बड़े थे इसलिए टीसीएस के बजाय BARC का एग्जाम क्लियर किया। इसके बाद GAIL, ISRO, MPPSC, SSC के एग्जाम भी क्लियर किए लेकिन उन्होंने खुद से वादा किया था कि अपना 25वां बर्थ-डे मसूरी के LBSNAA (लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकेडमी अॉफ एडमिनिस्ट्रेशन) में मनाएंगी और वो अपने सपने को साकार करने में सफल भी रहीं।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *