Press "Enter" to skip to content

रिलेशनशिप पर प्रतिबंधों को तोड़ते हुए सेक्स भी बन रहा है।व्यापार…

nadeem husen

पंकज चौधरी जानते हैं कि भारत में युवा और अविवाहित लोगों के लिए कितनी मुश्किल होती है। पंकज अपने माता-पिता के साथ नई दिल्ली में रहते हैं, जबकि उनकी गर्लफ्रेंड अपने पैरंट्स के साथ रहती हैं। उन्हें प्राइवेट में समय निकालने के लिए काफी जूझना पड़ता है। क्योंकि उनकी सोसायटी में शादी से पहले सेक्स पूरी तरह प्रतिबंधित है। ऐसे में उन्हें प्राइवेट टाइम बिताने के लिए किसी होटल का सहारा लेना पड़ता था, जहां इनसे अजीब ढंग के सवाल पूछे जाते थे।

 india breaking taboos about relationships and sex is becoming good for business in india
Third Party Image

लेकिन अब नहीं। अब चौधरी स्मार्टफोन ऐप स्टेअंकल पर जाकर कुछ घंटों के लिए सम्मानित होटल में बुकिंग कर सकते हैं। यह होटल कम समय के लिए लोगों की बुकिंग करता है। ब्लूमबर्ग में छपी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इस तरह के स्टार्टअप सेक्स, रिलेशनशिप और रोमांस को लेकर सभी तरह की रूढ़िवादी सोच को तोड़ते हुए एक बड़ा बिजनस खड़ा कर रहे हैं।

चौधरी ने बताया कि इस तरह की बुकिंग के जरिए मेरी गर्लफ्रेंड को अपना चेहरा ढककर और अजीब सवालों का जवाब देने की जरूरत नहीं होगी।

 india breaking taboos about relationships and sex is becoming good for business in india
Credit-Pixabay

जब भी बात सेक्स की आती है तो ऐसा कोई देश नहीं है जो भारत जैसी सोच रखता हो। पुलिस होटलों पर रेड करती है, जहां कपल अपना प्राइवेट टाइम गुजार रहे होते हैं। जोड़ों को आपराधिक धाराओं का सामना करना पड़ सकता है। शादी से पहले सेक्स कोई अपराध नहीं है, सुप्रीम कोर्ट खुद अपने फैसले में यह बात कह चुका है।

यह भी पढ़ें-  क्रिस गेल भी हुए सपना चौधरी की अदाओं के कायल, जमकर नाचे हरयाणवी गाने पर-

टैक्नॉलजी इस तरह के संबंधों को बढ़ावा दे रही हैं। डेल्टा नाम का एक ऐप गे जोड़ों को साथ लाता है, साथ ही फिजिकली हैंडीकैप्ड लोगों की मैच मेकिंग करता है। स्टेअंकल नाम की ऐप की टैगलाइन है ‘जोड़ों को रूम चाहिए न कि जजमेंट।’

इन्क्लोव नाम के ऐप के को-फाउंडर शंकर श्रीनिवासन का कहना है कि यह गलत है कि फिजिकली हैंडिकैप्ड लोगों को प्यार और रोमांस में दिक्कत आती है। इस स्टार्टअप के 30 हजार से ज्यादा यूजर हैं। इस ऐप के जरिए अब तक 8 हजार से ज्यादा लोगों को साथ ला चुका है।

यह भी पढ़ें- महिलाओं के विषय में आचार्य चाणक्य के ये 5 विवादित विचार जरूर पढ़ लें, वार्ना बाद में पछताना पड़ेगा..

Source

Fenkmat.com से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें Facebook पर ज्वाइन करें और Twitter पर फॉलो करें. अगर आपको हमारा आर्टिकल पसन्द आया तो हमें कमेन्ट करके बताएं और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *