Press "Enter" to skip to content

जानिये ऐंसा गांव जहां के फैशन की हुई दुनिया दीवानी, महिलाएं पहनती हैं बिना ब्लाउज के साड़ी

Sandy

इन दिनों सोशल मीडिया पर ब्लाउज फ्री साड़ी का कैम्पेन चल रहा है। इसमें मॉडल्स और खूबसूरत महिलाएं बिना ब्लाउज के साड़ी पहनकर फोटो अपलोड कर रही हैं। हालांकि, छत्तीसगढ़ के आदिवासी क्षेत्रों में ब्लाउज फ्री साड़ी पहनने का चलन सदियों से चला आ रहा है। क्यों पहनती हैं ये महिलाएं ऐसी साड़ी?

महिलाओं में साड़ी के साथ ब्लाऊज़ पहना जाता है क्योंकि ये उनकी पोशाक को आकर्षक और सुंदर बनाता है। ओर उनके शरीर को एक सुंदर और आकर्षक पोशाक प्रदान करता है। हम आपको एक चोकाने वाली बात बताते है। जी हां भारत मे एक जगह ऐसी भी है जहाँ महिलाएं साड़ी के साथ ब्लाउज नही पहनती। ओर इसका कारण कोई फैशन नही है चलिए बताते है आपको।

wering saree without blouse
Third party image

छत्तीसगढ़ की आदिवासी महिलाएं बिना ब्लाउज़ के पहनती हैं साड़ी। यहां की परंपरा के मुताबिक महिलाओं को ब्लाउज पहनने की अनुमति नहीं है। इस परंपरा के अंतर्गत महिलाएं ना तो खुद ब्लाउज पहनती है और ना ही गांव की किसी और महिलाओं को इसे पहनने देती हैं। इन इलाकों में रहने वाले लोग शुरू से अपनी परंपरा को निभाते चले आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट ने कहा हर राज्य में रिलीज हो पद्मावत

लेकिन हाल ही में ऐसी खबरें आई थी कि यहां रहने वाली कुछ लड़कियों ने ब्लाउज पहनना शुरू कर दिया है। जिस वजह से गांव वालों ने उन पर परंपरा की अवहेलना का आरोप भी लगाया था। आज भी इस परंपरा को बचाने में पुराने लोग लगे हुए है। बिना ब्लाउज साड़ी पहनने को गातीमार स्टाइल कहा जाता ह। लगभग एक हजार साल से इस परंपरा को लोग निभाते चले आ रहे हैं।

saree without blouse
Third party image

आदिवासी महिलाओं का मानना है कि बिना ब्लाउज़ के साड़ी पहनने पर काम करने में सुविधा होती है। ऐसे खेत में काम करना और बोझ उठाना काफी आसान हो जाता है। जबकि जंगली इलाकों में महिलाएं गर्मी की वजह से ब्लाउज पहनना पसंद नहीं करती। वहीं दूसरी तरफ शहरों में अब बिना ब्लाउज साड़ी पहनने का फैशन चल पड़ा है।

यह भी पढ़ें- Blue Moon Day : 150 साल बाद बन रहा है ये अजब संयोग जब चंद्रमा का रंग बदलकर हो जाएगा…

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसन्द आया तो हमें कमेन्ट करके बताएं और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Leave Your Comment Here
  1. Sandy Sandhya yadav

    Amazing information

  2. Sandhya yadav Sandhya yadav

    Amazing information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *