Press "Enter" to skip to content

Say No To Meat, मीट से कहीं ज़्यादा ताक़त देते हैं यह शाकाहारी Food

Sandy

(#SayNoToMeat) जैंसा की हम सभी जानते हैं कि चिकन ओर मटन में ज्यादा प्रोटीन होता है। और इन सब चीजों को ज्यादातर वही लोग खाते हैं जो ज्यादा मेहनत करते हैं, जैसे खिलाड़ी, पहलवान, जिम ट्रेनर, बॉडी बिल्डर,आदि। और कुछ लोग इन सब चीजों को शौक से भी खाते हैं, लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि जितना प्रोटीन चिकन मटन में होता है उतना ही शाकाहारी फ़ूड में भी होता है,और उसमें भी उतना ही प्रोटीन, वसा, ओर विटामिन होता है।

badam fenkmat

बादाम – बादाम में सबसे ज्यादा प्रोटीन और पोषक तत्व पाए जाते हैं, मात्र 100 ग्राम बादाम में 3.7 मिली आयरन, 12 ग्राम फाइबर और 264 मिली कैल्शियम पाया जाता है, इसके साथ-साथ बादाम में वसा विटामिन और मिनरल भी पाया जाता है। ये हमारी body के लिए सबसे ज़्यादा healthy होती हैं बादाम रेग्युलर खाना चाहिए |

soybean fenkmat

सोयाबीन – जितना प्रोटिन चिकन और मटन मे पाया जाता है, उतना ही सोयबीन मे भी पाया जाता है, हम आपको बताते हैं केवल 100 ग्राम सोयाबीन में 15।7 मिली आयरन, 9 ग्राम फाइबर और 277 मिली कैल्शियम पाया जाता है, जो हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है और इसे हमें अपनी रेग्युलर डाइट में लेना चाहिए |

kaddu ke beej fenkmat

कद्दू के बीज – आपने कद्दू के बारे मे तो सुना ही होगा कद्दू के बीज़ हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छे होते हैं | रोजाना कद्दू के बीज खाने से हमे दिल की बीमारी,शुगर,नीद ना आना,तनाव जैसी बीमारी से छुटकारा मिल जाता है। डॉक्टर के अनुसार अगर आप रोजाना 1 चम्मच कद्दू के बीज खाते हैं तो काफी हेल्दी जीवन जी सकते हैं.

khas khas fenkmat

खसखस – खसखस बहुत पौष्टिक पदार्थ होता है, जो कई प्रकार की सब्जियों मे उपयोग की जाती  है, खसखस में कई प्रकार के पौष्टिक पदार्थ होते हैं जेसे, खसखस में आयरन, फाइबर और कैल्शियम की भारी मात्रा होती है, खसखस फाइबर का भी बहुत बड़ा स्त्रोत है, खसखस का उपयोग सबसे ज़्यादा सर्दियों में किया जाता हैं।

alsi fenkmat

अलसी – अलसी बहुत ही पौष्टिक होती है, अलसी में लिगनेंस एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो हमें कैंसर डायबिटीज और हार्ट प्रॉब्लम जैसी बीमारियों से बचाते हैं, अलसी में आयरन, फाइबर, कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन B6 बड़ी मात्रा में पाया जाता है, इसके नियमित सेवन करने से कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *