Press "Enter" to skip to content

क्या आपके पास भी है Redmi का मोबाइल,तो जानिए इस कंपनी के बारे में कुछ अनजाने तथ्य-

Sandy

अगर आप एक स्मार्टफोन यूजर है तो निसंदेह आप चीनी मोबाइल निर्माता कंपनी Xiaomi के बारे में जरुर जानते होंगे। जी हाँ जिसे कुछ लोग Redmi के नाम से भी जानते हैं, Xiaomi को पिछले 2 वर्षों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बड़ी अभूतपूर्व सफलताएं हासिल हुई हैं, और Redmi भारत में भी 2 मिलियन का व्यापार करने के साथ ही भारत की सबसे बड़ी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी भी बन गई है।

भारत में Xiaomi को आमतौर पर एक मोबाइल निर्माता कंपनी के रूप में जाना जाता है लेकिन आपको यह जानकर शायद आश्चर्य हो कि Xiaomi  एक इलेक्ट्रॉनिक कंपनी है,जो स्मार्टफोन के अलावा लाइट,केबल, बैटरी सप्लायर वा इलेक्ट्रिक बाइक आदि का निर्माण कार्य करती है।

आपको यह जानकर शायद हैरानी हो Xiaomi  ने अपना पहला स्मार्टफोन सन 2011 में लांच किया था, और वह आज 2017 में मात्र 6 सालों के अंदर विश्व की पांचवी सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है।

redmin y1
Third party image

किसने शुरू की कंपनी-
इस कंपनी के संस्थापक ली जून हैं, यहां पर दिलचस्प बात तो यह भी है कि ली जून ने शाओमी कंपनी की स्थापना 6 अप्रैल 2010 में 7 लोगों के साथ मिलकर की थी। प्रारंभ में इस कंपनी का मकसद सिर्फ चाइना में ही सॉफ्टवेर बनाना और मोबाइल बेचना था लेकिन धीरे धीरे यह कंपनी अंतरराष्ट्रीय स्तर तक अपनी पहचान बनाने में सफल रही और मात्र कुछ ही वर्षों में हुआ दुनिया की शीर्ष पांच कंपनियों में शुमार हो गई। रेडमी इतने कम समय में इतनी बड़ी कंपनी बन जाएगी इसका अंदाजा किसी ने नहीं लगाया था।

यह भी पढ़ें- रुकिए ! कहीं आपने भी इन्हें Aishwarya Rai तो नहीं समझ लिया ?

Xiaomi कंपनी के मालिक ली जून प्रारंभ में जोयो डॉट कॉम नाम की एक वेबसाइट चलाते थे लेकिन फिर उन्होंने यह वेबसाइट अमेजन डॉट कॉम को बेच दी और सॉफ्टवेयर तथा मोबाइल निर्माण के लिए एक कंपनी की स्थापना की जो भविष्य में शाओमी के नाम से जानी गयी।

प्रारंभ में Xiaomi कंपनी में कुछ लोग ही काम करते थे लेकिन आज Xiaomi में कर्मचारियों की संख्या 8000 से भी अधिक हो गई है और हर रोज इसमें विस्तार हो रहा है। Redmi ने भारत में भी अपने प्लांट्स लगाए हैं जहाँ रेडमी मोबाइल असेम्बल किये जाते हैं।

women working in redmin company
Third party image

और सबसे खास बात की इन प्लांट्स में भारतीय महिलाओं को आर्थिक रूप से शसक्त बनाने के लिए सिर्फ महिलाओं को ही असेम्बलिंग सेक्शन में जॉब दी जाती है। और कम्पनी की इस खासियत ने लोगों के दिलों में जगह बना ली है।

Xiaomi प्रारंभ में सिर्फ एक लक्ष्य लेकर चली थी कि वह कम कीमत पर लोगों को अच्छे फीचर वाले मोबाइल उपलब्ध कराएगी और वह आज इसी लक्ष्य के दम पर विश्व की पांच बड़ी कंपनियों में अपनी जगह बनाने में कामयाब रही है।

यह भी पढ़ें- एक-दो नहीं पूरे 800 बच्चों का पिता है ये आदमी और अब बनना चाहता है….

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो कमेन्ट करके बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें।

Leave Your Comment Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *